मथुरा में हुई हिंसा,2 पुलिस अधिकारी शहीद

0
98

मथुरा में हुई हिंसा,2 पुलिस
अधिकारी शहीद, 21 की मौत

मथुरा 🙁पी9न्यूज़ ब्यूरो)
उत्तर प्रदेश के मथुरा के जवाहरबाग में हुई हिंसा में पुलिस अधीक्षक और एक थानाध्यक्ष समेत 21 लोगों की मृत्यु हुई है। आगरा मंडल के आयुक्त प्रदीप भटनागर ने बताया कि जवाहरबाग को कब्जाधारियों से मुक्त करा लिया गया है। इस घटना में पुलिस अधीक्षक मुकुल द्विवेदी और फरह थाने के थानाध्यक्ष संतोष यादव उपद्रवियों की गोली लगने से शहीद हो गए। इस घटना में 19 कब्जाधारियों की भी मृत्यु हुई है। प्रशासन का दावा है कि जवाहरबाग में जो कब्जाधारी थे उनमें कुछ नक्सली भी थे। उन्होंने बताया कि घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दे दिए गए हैं। इस बीच लखनऊ से पुलिस महानिदेशक एस जावीद अहमद और मुख्य सचिव आलोक रंजन भी सुबह मथुरा पहुंच चुके हैं। देर रात मथुरा पहुंचे राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक दलजीत चौधरी ने बताया कि तलाशी के दौरान जवाहरबाग से बडी संख्या में हथियार और कुछ विस्फोटक भी बरामद हुआ है। इस घटना में पुलिस उपाधीक्षक और सिटी मजिस्ट्रेट समेत कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। घायलों में 2 पुलिसकर्मियों की हालत गंभीर है। उन्होंने बताया कि मृतक कब्जाधारियों की पहचान की जा रही है। इस मामले में बडी संख्या में कब्जाधारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश के अनुपालन में करीब 280 एकड सरकारी जमीन को खाली कराने गई पुलिस पर कथित सत्याग्रहियों ने ताबडतोड फायरिंग शुरु कर दी थी। जवाब में पुलिस ने भी गोलियां चलाई और लाठियां भांजी । मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को 20-20 लाख रुपए राहत राशि देने की घोषणा के साथ ही दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रर्वाई का आदेश दिया है। पूरे मामले की जांच आगरा के मण्डलायुक्त प्रदीप भटनागर को सौंपी गई है। वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पर्याप्त पुलिस बल के साथ कैम्प कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here